Time manegmant

टाइम मैनेजमेंट समय के सर्वश्रेष्ठ उपयोग के 30 सिद्धांत

टाइम मैनेजमेंट समय के सर्वश्रेष्ठ उपयोग के 30 सिद्धांत

इस आर्टिकल में आप जानेगें कि डॉक्टर सुधीर दीक्षित ने अपने किताब Time Manegment book में समय के सर्वश्रेष्ठ उपयोग के 30 सिद्धांत में खंड एक में तीन बुनियादी सवाल बताए हैं जिसे निम्न अनुसार से आप जान पाएंगे

• पहला बुनियादी सवाल आजकल समय की इतनी कमी क्यों महसूस होती है
• दूसरा बुनियादी सवाल आपके पास दरअसल कितना समय है
• तीसरा बुनियादी सवाल आपका समय कितना कीमती है

समय का प्रबंधन कैसे करें जाने Best किताब Time Management Book से

Time manegmantTime manegmant

पहला बुनियादी सवाल आज कल समय की इतनी कमी क्यों महसूस होती है

दोस्तों आप आजकल की भागदौड़ में हमें समय की इतनी कमी क्यों महसूस होती है समय पर काम न करने या न होने पर हम झल्ला जाते हैं आग बबूला हो जाते हैं चिढ़ जाते हैं तनाव में आ जाते हैं समय की कमी के चलते हम लगभग हर पल जल्दबाजी और हड़बड़ी में रहते हैं इस चक्कर में हमारा ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और लोगों से हमारे संबंध खराब हो जाते हैं हमारा मानसिक संतुलन गड़बड़ा जाता है और कई बार तो दुर्घटनाएं भी हो जाती है समय की कमी हमारे जीवन का एक अप्रिय अनिवार्य हिस्सा बन चुकी है
डॉ दीक्षित अपने किताबTime Manegment book में बताते हैं कि पहले जमाने में हमारे पूर्वजों को Time Manegment करने की कभी जरूरत नहीं पड़ा तो फिर हमें क्यों जरूरत पड़ रही है हमारे पूर्वजों को क्या 48 घंटे मिलते थे जो आज हमें केवल 24 घंटे मिल रहे हैं आप भी जानते हैं और मैं भी जानता हूँ ऐसा नहीं पहले भी 24 घंटा मिलता था आज भी 24 घंटा हम सभी के लिए उपलब्ध है फिर भी हमें आज समय की कमी हो रही है 20 वीं सदी में पहले कार नहीं थी मोटरसाइकिल या स्कूटर भी नहीं थे लेकिन हमारे पूर्वजों को कहीं पहुंचने की जल्दी भी नहीं थी पहले मिक्सर फुड प्रोसेसर या माइक्रोवेव नहीं थे लेकिन गृहणियां सिल पर मसाला पीसने एवं चूल्हे पर खाना पकाने में किसी तरह की गड़बड़ी नहीं दिखाती थी पहले बिजली नहीं थे लेकिन किसी को रात रात भर जाकर काम करने की जरूरत नहीं होती थी वास्तव में तब जीवन ज्यादा सरल था क्योंकि उस समय इंसान की जिंदगी घड़ी के हिसाब से नहीं चलती थी आधुनिक युग के बाद फैक्टरी आफिस और नौकरी का जो दौर शुरू हुआ उसने मनुष्य को घड़ी का गुलाम बनाकर रख दिया पहले घड़ी हमारे जीवन पर हावी नहीं हुई थी और इसका सीधा सा कारण क्या था कि ज्यादातर लोगों के पास खड़ी थी ही नहीं पहले अलार्म घड़ी की कोई जरूरत नहीं थी मुर्गे की बाघ ही काफी थी तब 8:18 की लोकल पकड़ने का कोई तनाव नहीं रहता था तब कोई काम सुबह 9:00 बजे हो या 9:15 बजे कोई खास फर्क नहीं पड़ता था लेकिन आज पड़ता है पहले जीवन सरल था और अब जटिल हो चुका है यह हमारी समस्या का मूल कारण पहले जीवन की रफ्तार धीमी थी लेकिन अब तेज हो चुकी है अब हमारे जीवन में इंटरनेट आ गया है जो पलक झपकते ही पूरी दुनिया को जोड़ देता है अब हमारे जीवन में टीवी आ चुका है जिसका बटन दबाते ही पूरी दुनिया का खबर मिल जाता है हमारे पास कार है हवाईजहाज है जिनसे हम तेजी से कहीं भी पहुँच सकते हैं अब हमारे पास फोर जी फाइव जी मोबाइल है जिनसे हम दुनिया में कहीं भी किसी से बात कर सकते हैं देख सकते हैं आधुनिक और अ ने हमारे जीवन की गति को बढ़ा दी है शायद आधुनिक अधिकारी हमारे जीवन में समय की कमी का सबसे बड़ा कारण है इनकी बदौलत हम दुनिया से जुड़ गए हैं लेकिन शायद खुद से दूर हो गए हैं यदि आप समय के सर्वश्रेष्ठ उपयोग को लेकर गंभीर हैं तो इसका सबसे सीधा समाधान है यदि आप किसी तरह आधुनिक विचारों से मुक्ति पा लें और दोबारा पुराने जमाने के जीवन सभी जीवन शैली अपना लें तो आपको काफी सुविधा होगी नहीं नहीं मैं यह वैसे दिल्ली तक पैदल जाने की बात नहीं कर रहा हूँ मैं तो केवल कहना चाहता हूँ कि मोबाइल टीवी इंटरनेट चैटिंग आदि समय बर्बाद करने वाले अविष्कारों का इस्तेमाल कम करदे

दूसरा बुनियादी सवाल आपके पास दरअसल कितना समय है

Time Manegment book   विधात ने किसी को सुंदरता ज्यादा दी है किसी को कम दी है किसी को बुद्धि ज्यादा दी है किसी को दौलत ज्यादा दी है किसी कम दी है लेकिन समय उसने सबको बराबर दिया है 1 दिन में 24 घंटे समय ही एकमात्र ऐसी दौलत है जैसे आप बैंक में जमा नहीं कर सकते समय का गुजरना आपके हाथ में नहीं होता यह तो घड़ी की सुई के साथ लगातार आपके हाथ से फिसलता रहता है आपके हाथ में तो बस इतना रहता है कि आप इस समय का कैसा उपयोग करते हैं अगर सदुपयोग करेंगे तो अच्छे परिणाम मिलेंगे अगर दुरुपयोग करेंगे तो पूरे परिणाम मिलेंगे ध्यान देने वाली बात यह है कि हमारे पास कहने को तो 24 घंटे होते हैं लेकिन वास्तव में इतना समय हमारे हाथ मैं नहीं होता सच तो यह है कि समय की एक बड़े हिस्से पर हमारा कोई नियंत्रण नहीं होता 8 घंटे नींद में चले जाते हैं और 2 घंटे खाने पीने प्यार होने और नित्य कर्म आदि में चले जाते हैं यानी हमारे हाथ में दरअसल 14 घंटे का समय ही होता है दूसरे शब्दों में जीवन में सिर्फ 58% समय पर हमारा नियंत्रण संभव है जबकि 42% समय हमारे नियंत्रण से बाहर होता है सुविधा की दृष्टि से यह मानने कि 40% समय पर हमारा नियंत्रण नहीं होता जबकि 60% समय पर हम होता है
समय अनमोल है क्योंकि वास्तव में समय ही संसार की एकमात्र ऐसी चीज़ है जो सीमित है अगर आप दौलत गंवा देते हैं तो दोबारा कमा सकते हैं घर गंवा देते हैं तो दोबारा पा सकते हैं लेकिन अगर समय गंवा देते हैं तो आपको वही समय दोबारा नहीं मिल सकता हमारे पास जीवन में बहुत कम समय है और यह समय सीमित है यदि हम अपनी अपेक्षित आयु स वर्ष मानले तो हमारे पास जीवन में कुल 36,500 दिन ही होते हैं इसी समय हिसाब लगाकर देखिए कि इन पांच दिनों से आपके पास कितने दिन बचे हैं जिनमें आपको अपने जीवन का लक्ष्य प्राप्त करना है अगर हम जीवन में कुछ करना कुछ बनना कुछ पाना चाहते हैं तो यह अनिवार्य है कि हम समय का सर्वश्रेष्ठ उपयोग करना सीख लें ताकि इस धरती पर अपने सीमित समय में हम वह सब हासिल कर सकें जो हम हासिल करना चाहते हैं चाहे वह दौलत यह शोहरत हो सुख यह सफलता हो

तीसरा बुनियादी सवाल आपका समय कितना कीमती है

Time Manegment book   कहा जाता है समय ही धन है परंतु यह कहावत पूरी तरह सच नहीं है सच है भावी धन है अगर आप अपने समय का सदुपयोग करते हैं तभी आप धन कमा सकते हैं दूसरी ओर अगर आप अपने समय का दुरुपयोग करते हैं तो आप धन कमाने की संभावना खो को गंवा देते हैं क्या आप ठीक ठीक जानते हैं कि आपका समय कितना कीमती है अगर नहीं तो नीचे दिए गए फॉर्मूले का प्रयोग करके आप जान सकते हैं ज्ञात करने का फार्मूला आपके 1 घंटे का मूल्य बराबर आपकी आमदनी बटा काम के घंटे अपनी आम्दानी में काम के घंटों का भाग देने से आप जान जाएंगे कि आपकी 1 घंटे के समय का वर्तमान मूल्य क्या है इस फॉर्मूले का सिर्फ एक बार प्रयोग करने से ही आग के जीवन में चमत्कारिक परिवर्तन हो जाएगा आप समय के उपयोग को लेकर सतर्क हो जाएंगे आप समय बर्बाद करना छोड़ देंगे आप अपने समय के बेहतर उपयोग के तरीके खोजने लगेंगे आप कम समय में ज्यादा काम करने के उपाय खोजने लगे और यह सब केवल इसलिए होगा क्योंकि अब आपको पता चल चुका है कि आपके काम का हर मिनट कितना कीमती है और उसे बर्बाद करके आग अपना कितना आर्थिक नुकसान कर रहे हैह

BOOK BUY NOW

2 thoughts on “टाइम मैनेजमेंट समय के सर्वश्रेष्ठ उपयोग के 30 सिद्धांत”

  1. Pingback: समय का सर्वश्रेष्ठ उपयोग का पहला सिद्धांत। Time managemant skills techniques tipe  - KNEXGURU

  2. Pingback: What is nexmoney?  नेक्समनी क्या है ? - KNEXGURU

Leave a Comment

Your email address will not be published.